आज का विचार

Filter By   Reset
 
DATE HINDI QUOTE
05-10-2017 अकबर से लेकर औरंगजेब तक मुगलों ने जिस देशभाषा का स्वागत किया वह ब्रजभाषा थी, न कि उर्दू। -रामचंद्र शुक्ल।
04-10-2017 हिंदी का पौधा दक्षिणवालों ने त्याग से सींचा है। - शंकरराव कप्पीकेरी।
03-10-2017 समस्त भारतीय भाषाओं के लिए यदि कोई एक लिपि आवश्यक हो तो वह देवनागरी ही हो सकती है। - (जस्टिस) कृष्णस्वामी अय्यर।
02-10-2017 हिंदी का काम देश का काम है, समूचे राष्ट्रनिर्माण का प्रश्न है। - बाबूराम सक्सेना।
01-10-2017 राष्ट्रभाषा के बिना आजादी बेकार है। - अवनींद्रकुमार विद्यालंकार।
30-09-2017 "उद्यम से कार्य सिद्ध होते हैं न कि मनोरथ से"
29-09-2017 "आचरण के बिना ज्ञान केवल भार हैं"
28-09-2017 "ढ़ूढ़ने तक समाधान मिलते रहते हैं"
27-09-2017 "गलतियां ढ़ूंढ़ना आसान व उपाय कठिन हैं"
26-09-2017 "विचारों की गति ही सौंदर्य है"
25-09-2017 "विचार ही संसार पर शासन करते हैं"
24-09-2017 "पुस्तक प्रेमी ही वास्तविक में धनवान व सुखी होता है"
23-09-2017 "सत्य की हमेशा जय होती है"
22-09-2017 "बुद्धिमान ही बलशाली होता है"
21-09-2017 "गलतियां ही आपको परिपक्व बनाती हैं"
20-09-2017 "अपमानपूर्वक अमृत पीने से बेहतर सम्मानपूर्वक विषपान है"
19-09-2017 "विचार बंधन व ज्ञान मुक्ति देता है"
18-09-2017 "सोच बदलने से व्यवहार भी बदलता है"
17-09-2017 "कांटे कभी अच्छे नहीं होते"
16-09-2017 "अनुभवों के बदलने से सोच बदलती है"
15-09-2017 "शांति प्रगति के लिए आवश्यक है"
14-09-2017 "इतिहास वास्तव में आत्मकथा है"
13-09-2017 "करोड़ों मुद्रओं से भी आयु का एक क्षण नहीं पाया जा सकता"
12-09-2017 "समय का आदर करने वाले व्यक्ति कामयाब होते हैं"
11-09-2017 "अमीरों के संबंधियों की फेहरिस्त लंबी होती हैं"
10-09-2017 "व्यक्ति के सौ गणों को एक दरिद्रता नष्ट कर देती हैं"
09-09-2017 "आर्थिक तंगी बुराइयों की जड़ हैं"
08-09-2017 "परदेश में धन ही सबसे बड़ा मित्र होता है"
07-09-2017 "मनुष्य अर्थ का दास है"
06-09-2017 "महिला के दोष जानने हों तो सहेली की प्रशंसा करें"
05-09-2017 "विचारों की शक्ति अकूत है"