IITBBS
IITBBS
हिंदी | Site Map
Follow Us:

नराकास भुवनेश्वर की वेबसाइट का लोकार्पण एवं एक दिवसीय कार्यशाला एवं प्रतियोगिता का आयोजन

नराकास की वेबसाइट का लोकार्पण एवं “राजभाषा नीति का कार्यान्वयन : समस्याएं एवं समाधान” पर एक दिवसीय कार्यशाला और आशुभाषण प्रतियोगिता

   

नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति भुवनेश्वर द्वारा आयोजित “राजभाषा नीति का कार्यान्वयन  : समस्याएं एवं समाधान” पर दिनांक 26.04.2016 को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान भुवनेश्वर के संस्थान प्रेक्षागृह में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता, प्रो. आर. वी. राज कुमार, अध्यक्ष नराकास ने की। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में श्री एस.के. पंडा, उप महा निदेशक राष्ट्रीय सूचना  केंद्र एवं सम्मानीय अतिथि के रूप में डॉ. आर.एन. बेहेरा, वरिष्ठ तकनीकी निदेशक, राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र उपस्थित थे।

कार्यक्रम का उद्घाटन भारतीय परंपरानुसार दीप प्रज्जवलन से हुआ। कार्यक्रम का प्रारंभ करते हुए श्री नितिन जैन, सदस्य-सचिव, नराकास, भुवनेश्वर (के.) ने कार्यशाला के आयोजन के उद्देश्य पर प्रकाश डाला। इस कार्यशाला में केंद्र सरकार के विभिन्न कार्यालयों से लगभग 75 प्रतिभाग उपस्थित थे।

प्रो.आर.वी. राज कुमार, अध्यक्ष, नराकास ने अपने संबोधन में उपस्थित अतिथियों का स्वागत किया और राजभाषा के प्रगामी प्रयोग की वृद्धि में प्रौद्योगिकी के विकास पर बल दिया। इसी उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए नराकास भुवनेश्वर की वेबसाइट का निर्माण एनआईसी के सहयोग से किया गया। उन्होंने इस कार्य के लिए NIC team का आभार व्यक्त किया।  

नराकास भुवनेश्वर की वेबसाइट tolicbbs.ac.in का लोकार्पण अध्यक्ष नराकास, मुख्य अतिथि एवं सम्मानीय अतिथि द्वारा  किया गया। सदस्य-सचिव श्री जैन ने वेबसाइट की सामग्रियों और इसमें दिए गए पंजीकरण पैनल संबंधी जानकारी सांझा की।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि श्री पंडा ने इस महत्वपूर्ण योजना को क्रियान्वित करने के लिए भा.प्रौ.सं. भुवनेश्वर एवं अपनी एनआईसी की टीम को धन्यवाद ज्ञापित किया। उन्होंने अपने संबोधन में इस वेबसाइट को राजभाषा के प्रचार-प्रसार के लिए एक महत्वपूर्ण कदम बताया।
सम्मानीय अतिथि डॉ. आर. एन. बेहेरा ने वेबसाइट के निर्माण के दौरान आई समस्याओं के बारे में बोलते हुए कहा कि हिंदी में वेबासाइट का निर्माण अत्यंत चुनौतिपूर्ण था लेकिन हमारी टीम की संकलपबद्धता ने इस कार्य को करने में सफलता दिलाई। मैं अध्यक्ष नराकास की इस भावी योजना के लिए उन्हें बधाई देता हूँ जिनके मार्गदर्शन से यह वेबसाइट का निर्माण हो सका है। उन्होंने सभी उपस्थित सदस्यों को इस वेबसाइट में सामग्री को निरंतर रूप से अद्यतीत करने के लिए भी अनुरोध किया।
डॉ. राज कुमार सिंह ने अपने संबोधन में इस वेबसाइट के निर्माण की सार्थकता पर प्रकाश डाला और इसकी उपयोगिता सिद्ध करने के लिए सभी सदस्य कार्यालयों से निरंतर सामग्रियों के प्रेषण की अपेक्षा की।
श्री आर.एन.चांद ने राजभाषा नीति का परिचय,  श्री हरिराम पंसारी, सदस्य-सचिव, नराकास भुवनेश्वर (उपक्रम) एवं प्रबंधक नालको ने हिंदी के संसाधित उपकरण एवं यूनिकोड एक परिचय,  श्री नितिन जैन, सदस्य-सचिव नराकास ने ऑनलाइन तिमाही प्रगति रिपोर्ट भरने तथा राजभाषा के कार्यान्वयन के लिए सुझाव संबंधी अपने अनुभवों को पॉवर प्वाइंट के माध्यम सांझा किया।

तत्पश्चात सभी सदस्य कार्यालयों के कर्मचारियों के लिए आशुभाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में निर्णायक के रूप में श्री राम किशोर शर्मा, पुनर्वास अधिकारी, व्यवसायिक विकलांग अनुसंधान केंद्र तथा श्री विजय कुमार शर्मा, सहायक निदेशक (राजभाषा), कर्मचारी भविष्य निधि संगठन उपस्थित थे। प्रतियोगिता में कुल 31 प्रतिभागियों ने भाग  लिया।

धन्यवाद ज्ञापन नराकास भुवनेश्वर (के.) के वार्षिक कार्यक्रम समिति के समन्वयक श्री भगवान बेहेरा ने किया।